नेपाल में एक हजार लोग हिरासत में


चुनाव को बाधारहित संपन्न कराने की कवायद

काठमांडू (ईएमएस)। नेपाल में होने वाले ऐतिहासिक प्रांतीय एवं संसदीय चुनाव के आखिरी चरण में कथित तौर पर खलल डालने की कोशिश करने को लेकर तीन भारतीयों सहित 950 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने यह जानकारी दी। देश में प्रथम चरण का चुनाव 26 नवंबर को 32 जिलों में सफलतापूर्वक संपन्न हुआ था। पुलिस ने बताया कि विभिन्न राजनीतिक दलों से संबद्ध कुल 957 लोगों को नेताओं और कार्यकर्ताओं पर हमले करने के आरोप में हिरासत में लिया गया। उनमें से 600 सीपीएन-माओवादी से संबद्ध हैं। सपतारी जिले में तीन भारतीयों को भी हिरासत में लिया गया है।

चुनाव विरोधी गतिविधियों में उनकी संलिप्तता को लेकर उन्हें हिरासत में लिया गया। देश में 45 जिलों में मतदान होगा। इसके तहत संसद की प्रतिनिधिसभा की 128 सीटों और प्रांतीय विधानसभाओं के लिए वोट डाले जाएंगे। आखिरी चरण के चुनाव में प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा सहित कुल 4,482 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। मुख्य चुनाव आयुक्त अयोधी प्रसाद यादव के मुताबिक 400 अंतरराष्ट्रीय पर्यवेक्षक और 45 हजार राष्ट्रीय पर्यवेक्षक चुनावों की निगरानी कर रहे हैं।