हिमालय कब और कैसे बना होगा खुलासा


नई दिल्ली । वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि वे अब इस गुत्थी को सुलझा लेंगे कि हिमालय कब और वैâसे बना। नासा ने समुद्र के अंदर की सतह की आकृति को लेकर हाल में एक नक्शा जारी किया है। इससे समुद्र के अंदर की ाqस्थतियों के इतिहास को लेकर कई जानकारी मिलने की संभावना बनी है। भूगर्भ और भूगोल वैज्ञानिकों का कहना है कि इससे करीब २० करोड़ साल के दौरान धरती में आए बदलावों को समझना आसान हो गया है। धरती कई तरह के प्लेटों से बनी हैं। समुद्र के अंदर भी इस तरह की प्लेट हैं। ये हजारों किलोमीटर बड़ी हैं लेकिन खिसकती रहती हैं। कई प्लेट ऐसी भी हैं जिनका आqस्तत्व कुछ हजार साल बाद खत्म हो जाता है तो इस दौरान कई ऐसी प्लेट ऊपर आ जाती हैं जिनसे धरती पर पर्वत-पहाड़ उग आते हैं। इन प्लेटों के खिसकने की वजह से भूवंâप वगैरह आपदाएं भी आती हैं।
ऐसी ही एक अपेक्षाकृत छोटी प्लेट िंहद महासागर में पाई गई है। यह लगभग ६३ हजार किलोमीटर आकार की है। इससे ही वैज्ञानिक अंदाजा लगा रहे हैं कि भारतीय प्लेट और यूरोप तथा शेष एशिया को मिलाकर बनी यूरेशिया प्लेट के बीच करीब ४.७ करोड़ साल पहले टकराव होना शुरू हुआ होगा और इससे ही हिमालय बना होगा। वैज्ञानिकों का कहना है कि करीब ५ करोड़ साल पहले भारतीय प्लेट हर साल करीब १५ सेंटीमीटर की गति से खिसक रही थी। जब यूरेशिया प्लेट से यह टकराई, तो दोनों की ही गति थम गई और इनकी गति की दिशा भी बदल गई। अंटार्वâटिक प्लेट से आज जहां भारतीय प्लेट मिलती है, वहां इसका अंदाजा भी मिलता है। वैज्ञानिक अभी किसी नतीजे पर नहीं पहुंचे हैं लेकिन उनका कहना है कि नक्शे से समुद्र के गर्भ की ाqस्थतियों को लेकर समझना अब सरल हो रहा है।