मशीन बनाएगी मानव अंग


वाशिंगटन । शोधकर्ताओं की माने तो मानव के महत्वपूर्ण अंगों जैसे लीवर अथवा किडनी का निर्माण इलेक्ट्रानिक युक्तियों से किया जा सकेगा। शोधकर्ताओं ने बताया क बायोप्रीथ्री नामक नयी तकनीक छोटे सजीव सूक्ष्म उत्तकों के घटकों से बड़ी से बड़ी संरचनाओं के निर्माण में सहायक होगी। उन्होंने आगे बताया कि बायोप्रीथी का आगामी वर्जन पूर्ण अंगों जैसे लीवर (यकृत), पैक्रियाज (अग्नाशय) अथवा किडनी (वृक्क) के निर्माण को संभव बनाएगा। ब्राडन विश्वविद्यालय के बायो इंजीनियर जैप्रेâ मोर्गन ने बताया कि थ्रीडी बायोप्रिंटिंग के विपरीत हमारा प्रयास सजीव अंगों को एकत्र कर कार्यात्मक आकार देना है।