राज्यों के चुनाव संपन्न; नतीजे २३ दिसंबर को


अंतिम चरण में ७०.४२ प्रतिशत मतदान, ११३६ प्रत्याशियों के राजनीतिक भविष्य का होगा खुलासा

रांची। राज्य में पांचवें और अंतिम चरण में सोलह विधानसभा सीटों के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच आज दोपहर तीन बजे शांतिपूर्ण तरीके से मतदान संपन्न हो गया। इस चरण में ७०.४२ से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इसके साथ ही पांच चरणों में इक्यासी विधानसभा सीटों के लिए अब मतदान का कार्य संपन्न हो गया है। इन सीटों के लिए तेईस दिसंबर को सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू होगी और दोपहर बाद सभी सीटों के लिए परिणाम आ जाने की संभावना है। निर्वाचन आयोग की देखरेख में मतगणना को लेकर सभी आवश्यक तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इक्यासी विधानसभा सीटों के लिए मतों की गिनती २४ केंद्रों पर होगी। जहां-जहां ईवीएम रखी गई है, वहां सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। पहले चरण में१३ विधानसभा सीटों के लिए १९९, दूसरे चरण में २० विधानसभा सीटों के लिए २२३, तीसरे चरण में१७ विधानसभा सीटों के लिए २८९, चौथे चरण में १५ विधानसभा सीटों के लिए २१७ और पांचवें तथा अंतिम चरण में१६ विधानसभा सीटों के लिए २०८ प्रत्याशी चुनाव मैदान में थे।

इस तरह कुल ११३६ प्रत्याशियों के राजनीतिक भविष्य का ख् दिसंबर को मतगणना के दिन होगा। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार दोपहर तीन बजे तक इन सोलह सीटों के लिए प्रारंभिक सूचना मिलने तक ७४.४२ प्रतिशत मतदान होने की खबर है। राजमहल विधानसभा सीट के लिए ६७ प्रतिशत, बोरियो में६८, बरहेट में ६९, लिट्टीपाड़ा में७५.२०, पाकुड़ में ७५.५०, महेशपुर में ७५., शिकारीपाड़ा में७४, दुमका में ६३, जामा में ७१, जरमुण्डी में ७१, नाला में ७४, जामताड़ा में ७१, सारठ में७५.४७, पोड़ैयाहाट में ६८, गोड्डा में६५.२८ , और महगामा विधानसभा में६६.३२ प्रतिशत मतदान की खबर है। पांचवें और अंतिम चरण में जिन प्रमुख उम्मीदवारों के चुनावी किस्मत का फैसला होना है उनमें झारखंड मुक्ति मोर्चा के हेमंत सोरेन, लोबिन हेम्ब्रम, शशांक शेखर भोक्ता, सीता सोरेन, स्टीफन मरांडी, भाजपा के साईमन मरांडी, हेमलाल मुर्मू, कांग्रेस के आलमगीर आलम, राजेश रंजन, झाविमो के प्रदीप यादव और राजद के संजय प्रसाद यादव शामिल हैं।

गोड्डा जिले में विभिन्न राजनीतिक दलों के तीन वाहनों को पुलिस ने उस वक्त जब्त कर लिया, जब वे बिना अनुमति के मतदान केन्द्रों के समीप घूम रहे थे। मतदान को लेकर आज ग्रामीण क्षेत्रों में खासा उत्साह देखा गया, कई मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे मतदान शुरू होने के पहले ही मतदाता लाईन में आकर खड़े हो गये थे। मतदान को लेकर महिला मतदाताओं में भी खासा उत्साह देखा गया। मतदान शुरू होने के पहले निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश के अनुरूप सभी मतदान केंद्रों पर सुबह छह बजे मॉक टेस्ट हुआ, इस दौरान ईवीएम की गड़बडिय़ां तथा अन्य छोटी-बड़ी परेशानियों को दूर कर लिया गया। संवेदनशील और अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों पर अद्र्धसैन्य बलों की तैनाती की गयी थी, जबकि सामान्य बूथों पर भी पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बलों की प्रतिनियुक्ति की गयी थी। उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में भी बड़ी संख्या में मतदाता घर से निकल कर मतदान केंद्रों तक पहुंचे।