बैंगलूर में धमाके के बाद देशभर में हाई अलर्ट


रिजिजू ने बताया आतंकी हमला
 सिद्धारमैया ने बुलाई उच्चस्तरीय बैठक
नई दिल्ली। बेंगलुरू में चर्च स्ट्रीट पर हुए कम तीव्रता के आईईडी बम धमाके के बाद देशभर में हाई अलर्ट कर दिया गया है। सुरक्षा एजेंसियों ने दिल्ली पुलिस को व्यस्त सड़कों एवं लगे हुए क्षेत्रों में सुरक्षा व्यवस्था मजबूत करने के लिए कहा है। वेंâद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने साफ कर दिया है कि ये आतंकवादियों की करतूत थी। रिजिजू के मुताबिक इस धमाके के पीछे सिमी आतंकवादियों का भी हाथ हो सकता है। उन्होंने बताया कि पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि बेंगलुरू में पहले के धमाके और इस बार के धमाके में कोई संबंध है या नहीं। उन्होंने कहा है कि एनआईए इस मामले की जांच कर सकती है। इस बारे में विचार किया जा रहा है।
बेंगलुरू में रविवार को चर्च स्ट्रीट पर एक रेस्तरां के बाहर हुए धमाके में एक महिला की मौत हो गई थी जबकि तीन लोग घायल हैं। पुलिस सुराग तलाशने के लिए रेस्तरां के आसपास लगे सीसीटीवी पुâटेज खंगाल रही है। पुलिस के मुताबिक ये धमाका आईईडी की मदद से किया गया था।
धमाके के बाद आज मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। देर रात मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने अस्पताल जाकर घायलों का हाल जाना और मृतक महिला के परिवार को ५ लाख के मुआवजे का ऐलान किया। धमाके के बाद दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और पुणे समेत देश भर के सभी प्रमुख शहरों में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है।
चर्च स्ट्रीट रोड पर मशहूर कोकोनट ग्रोव रेस्तरां के पास लोग नए साल से पहले के आखिरी रविवार को आराम से अपने परिवार के साथ घूम रहे थे। अचानक एक धमाका होता है। इससे पहले की लोगों को कुछ समझ आता धमाके में चार लोग घायल हो गए।
अभी तक की जांच के मुताबिक बम को प्लााqस्टक की थैली में रेस्तरां के बाहर नाले के पास छुपाकर रखा गया था। धमाके की खबर जैसे ही आस-पास पैâली बेंगलुरू पुलिस और बम निरोधक दस्ते के लोग आनन-फानन में वहां पहुंचे। जांच में खुलासा हुआ है कि कम तीव्रता का ये धमाका आईईडी की मदद से किया गया था। धमाके में घायल चार लोगों को माल्या अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान भवानी नाम की महिला की मौत हो गई। जबकि अन्य घायलों की हालत ाqस्थर बनी हुई है।
देर रात कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने अस्पताल जाकर घायलों का हाल-चाल जाना। उन्होंने घायलों को हर मुमकिन मदद देने का ऐलान किया। उनके मुताबिक अभी किसी नतीजे पर पहुंचना जल्दबाजी होगा। धमाके के बाद पैदा हुए हालात पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री ने उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है।