असम में बोडो उग्रवादियों द्वारा नरसहांर


गुवाहाटी। असम के कोकराझाड़ व सोणितपुर जिले में मंगलवार को विभिन्न वारदातों में बोडो उग्रवादियों ने 34 बेगुनाहों की नृशंस हत्या कर दी। मरने वाले अधिकांश आदिवासी थे।उग्रवादियों ने कई आदिवासी गांवों पर हमले किये और अंधाधुंध गोलियां दागीं।

वारदातों के बाद पूरे असम में रेड एलर्ट घोषित कर दिया गया है।प्रशासन सतर्क घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हमले की निंदा करते हुए इसे कायरतापूर्ण कृत्य बताया है। मोदी ने ट्वीट किया कि उनकी नज़र घटना पर बनी हुई है और गृहमंत्री राजनाथ सिंह कल असम का दौरा करेंगे।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए ट्वीट किया है कि सरकार मामले पर नज़र बनाये हुए है और राज्य को हर संभव मदद की जायेगी।उन्होंने बताया कि असम के मुख्यमंत्री ने उन्हें परिस्थिति से अवगत कराया है।

मुख्यमंत्री तरुण गोगोई ने भी इस नरसंहार की कड़ी आलोचना की और उग्रवादियों के खिलाफ कार्रवाई तेज करने के आदेश दे दिए हैं।

राज्य के पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) एसएन सिंह ने जानकारी दी है कि गत रविवार को भूटान सीमा के निकट चिरांग जिले में दो उग्रवादियों के मारे जाने से एनडीएफबी (एस) बौखला गया है।