ऑल गुजरात वुमन कॉन्फ्रेंस-2014 का आयोजन रविवार को


सूरत। सूरत सी.ए. ब्रांच के इतिहास में दूसरी बार सूरत ब्रांच ऑफ द इंसटीच्युट ऑफ चार्टर्ड एकाउण्टंट्स ऑफ इंडिया तथा वुमन मेम्बर एम्पावरमेंट कमिटि इन एसोसियेशन के संयुक्त तत्वाधान में ऑल गुजरात वुमन कॉन्फ्रेंस- 2014, शनिवार को सुबह 8 बजे से शाम 6 बजे तक पंचवटी हॉल, अग्रसेन भवन, सिटीलाइन में आयोजित हुआ। जिसमें पूरे भारत से लगभग 400 से अधिक सी.ए. वुमन मेंबर्स सदस्यों ने उपस्थिति दर्ज करायी। इस सेमिनार के उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि दर्शना जरदोश, मेम्बर ऑफ पार्लियामेंट तता अतिथि विशेष के रुप में संगीताबेन पाटील- एम.एल.ए तथा सुष्मा अग्रवाल उपस्थित रहीं। सेमिनार के पहले सेशन में नयना देसाई ने रीसन्ट चेंजिस इन कंपनी लॉ वुमन इन्डीपेन्डन्ट डायरेक्टशीप जैसे विषय पर अपना वक्तव्य दिया। उन्होंने सी.ए. वुमन मेंबर्स को कॉर्पोरेट एंड सोश्यल रिस्पॉन्सिबिलीटी तथा वुमन सेक्शन में आये नये कानुनी परिवर्तन तथा नंबर ऑफ डायरेक्टर की लिमीट में जो कॉर्पोरेट और प्राइवेट लिमिटेड कंपनीज में परिवर्तन हुए इस संबंध में जानकारी दिया। सेमिनार के दूसरे सत्र में कु. वृष्टि पटेल ने अवर राइट्स एंड लॉ के विषय पर अपना वक्तव्य दिया। इसके अलावा उन्होंने सरकार द्वारा शुरु किये गये विविध हेल्पलाइन तथा न्यु ए एप्लिकेशन के बारे में सी.ए. वुमन मेंबर्स तथा विद्यार्थियों को सूचित किया। सेमिनार के तीसरे सेशन में कु. शिवानी बिल्लीमोरिया द्वारा हैप्पीनेस के विषय पर वक्तव्य दिया गया। इसके अलावा उन्होंने वुमन मेंबर्स को योगा तथा खुराक लेने की विविध रीतों के बारे में सूचित किया। उन्होंने कहा कि हैप्पीनेस व्यक्ति के अंदर है। इसके अलावा डॉ. देवांगी सेगल द्वारा हेल्थ तथा डॉ. महेन्द्र पटेल द्वारा वुमन इन द फिल्ड ऑफ टेक्नोलॉजी के विषय पर मार्गदर्शन दिया गया। सेमिनार के अंतिम सेशन में सीए झरना चंदवानी ने मर्जर एंड इन्क्वीजीशन जैसे विषयों पर अपने वक्तव्य दिये। सेमिनार के अंत में सूरत ब्रांच के चेयरमैन सी.ए. हेमंत जरीवाला ने सेमिनार में उपस्थित सभी सी.ए. वुमन मेंबर्स तथा विद्यार्थियों को धन्यवाद दिया।