इन गेंदबाजों के नाम रहा साल यह साल, किया बेहतरीन प्रदर्शन


नई दिल्ली (ईएमएस)। एशिया महाद्वीप के तीन युवा गेंदबाज़ों ने इस साल एक दिवसीय अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते हुए सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में दुनिया के बड़े-बड़े अनुभवी गेंदबाज़ों को पीछे छोड़ दिया है। ये युवा गेंदबाज हैं पाकिस्तान के हसन अली, अफ़ग़ानिस्तान के रशीद खान और भारत के जसप्रीत बुमराह।

इन तीनों गेंदबाज़ों का अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने तक का सफर भी काफी दिलचस्प रहा है। 24 साल के हसन अली 2017 में एकदिवसीय मैचों में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में पहले स्थान पर हैं। हसन अली ने 18 मैचों में 155 ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 45 विकेट लिए हैं। हसन अली का जन्म पाकिस्तान के पंजाब में हुआ। हसन अली का परिवार चाहता था की वह वकील बनें लेकिन हसन अली की इच्छा थी कि वह क्रिकेटर बनें।

हसन अली वसीम अकरम और वक़ार यूनुस को अपना रोल मॉडल मानते हैं। 18 अगस्त 2016 को हसन अली ने आयरलैंड के खिलाफ अपना अंतराष्ट्रीय क्रिकेट कैरियर शुरू किया था। इस मैच में हसन अली ने पांच ओवर गेंदबाज़ी की और 21 रन देकर कोई विकेट नहीं लिया। सन 2016 में हसन अली कुल आठ मैच खेलते हुए 11 विकेट लिए। सन 2017 हसन अली के लिए शानदार रहा। जून 2017 में खेले गए चैंपियंस ट्रॉफी में हसन अली शानदार गेंदबाज़ी करते हुए सबसे ज्यादा 13 विकेट लिए थे और मैन ऑफ़ द सीरीज भी बने। सन 2017 में हसन अली तीन बार एक मैच में पांच विकेट लेने में कामयाब हुए।

पाकिस्तान के तरफ से एकदिवसीय मैचों में सबसे तेजी से 50 विकेट लेने के मामले में हसन अली अपना रोल मॉडल वक़ार यूनुस का रिकॉर्ड तोड़ते हुए पहला स्थान पर पहुंच गए हैं। एकदिवसीय मैचों में 50 विकेट लेने के लिए 24 मैच का सहारा लिया है जब कि वक़ार यूनुस 50 विकेट लेने के लिए 27 मैच खेले थे।

अफ़ग़ानिस्तान के 19 साल के रशीद खान इस साल सीमित ओवर क्रिकेट में शानदार गेंदबाज़ी की है। रशीद खान 16 मैच खेलते हुए 10.44 के गेंदबाज़ी औसत से 43 विकेट लिए हैं। सन 2017 के टी 20 मैचों में भी रशीद खान कमाल किया है। सन 2017 में रशीद खान दस टी 20 अंतराष्ट्रीय मैच खेलते हुए सिर्फ 160 रन देकर 17 विकेट लिए हैं और साल के सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में तीसरे स्थान पर हैं। सबसे बड़ी बात यह है की रशीद खान सिर्फ 4.57 के औसत से रन दिए है, जो टी-20 क्रिकेट में कमाल की गेंदबाज़ी है।

सचिन तेंदुलकर और पाकिस्तान के शाहिद अफ़रीदी को अपने रोल मॉडल मानने वाले रशीद खान सिर्फ 32 एकदिवसीय मैच मैच खेलते हुए 70 विकेट ले चुके हैं। अफ़ग़ानिस्तान के लिए एकदिवसीय मैचों में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में रशीद खान तीसरे स्थान पर पहुँच चुके हैं, जबकि टी-20 में दूसरे स्थान पर हैं। अफ़ग़ानिस्तान के लिए एकदिवसीय और टी-20 मैचों में एक मैच में सबसे बेहतरीन गेंदबाजी के मामले रशीद खान पहले स्थान पर हैं। नौ जून 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ एकदिवसीय मैच में रशीद खान ने 8.4 ओवर में 18 रन देकर 7 विकेट लिए थे, जो उनके कैरियर का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन है।

10 मार्च 2017 को आयरलैंड के खिलाफ दो ओवर गेंदबाजी करते हुए सिर्फ तीन तीन देकर पांच विकेट लिए थे जो उनके टी-20 कैरियर के सबसे बेहतरीन प्रदर्शनों में से एक है। रशीद खान की प्रतिभा को देखते हुए सनराइज हैदराबाद ने आईपीएल 2017 के लिए चार करोड़ से ख़रीदा था।

भारत के जसप्रीत बुमराह ने इस साल एकदिवसीय मैचों में शानदार गेंदबाज़ी की है। सन 2017 में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में बुमराह तीसरे स्थान पर हैं। जसप्रीत बुमराह ने इस साल 23 मैच खेलते हुए 39 विकेट लिए हैं। सन 2013 में मुंबई इंडियन ने जसप्रीत बुमराह को आईपीएल मैच के लिए ख़रीदा। उस समय मुंबई इंडियन के कोच जॉन राइट के कहने पर बुमराह को मुंबई इंडियन ने ख़रीदा था। सन 2013 में जॉन राइट वेस्ट जोन टी- 20 मैच देखने के लिए अहमदाबाद गए थे क्यों की उस मैच में मुंबई के कुछ खिलाड़ी खेल रहे थे लेकिन राइट को जसप्रीत बुमराह ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया। आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के बात बुमराह का भारतीय टीम में चयन हुआ।

23 जनवरी 2016 को बुमराह को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलने का मौक़ा मिला। इस मैच में वह शानदार गेंदबाजी करते हुए 10 ओवर में 40 रन लेकर देकर दो विकेट लिए थे। इस के बाद बुमराह कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। अब तक बुमराह भारत के लिए 31 एकदिवसीय मैच खेलते हुए 56 विकेट ले चुके हैं और डेथ ओवर में दुनिया के सबसे बेहतरीन गेंदबाज माने जाते है।