प्रयागराज में जनवरी से मार्च तक शादियों पर लगी रोक, ये है वजह


जनवरी, फरवरी और मार्च में होने वाले कुंभ मेले के प्रमुख स्नानों के दौरान एक दिन पहले और एक दिन बाद में शादियों पर पाबंदी लगा दी है।
Photo/Twitter

प्रयागराज । यूपी के प्रयागराज में कुंभ होने के कारण अगले साल जनवरी से मार्च तक कोई बैंड बाजा बारात नहीं होगी। उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद शहर के बदले हुए नाम प्रयागराज में कुंभ महामेला 1 जनवरी 2019 से शुरू हो जाएगा। इसके लिए जिला प्रशासन ने अपनी तैयारियां लगभग पूरी कर ली हैं। वहीं, कुंभ के दौरान योगी सरकार ने शादियों पर रोक लगा दी है। रिपोर्ट के अनुसार, यूपी सरकार ने एक आदेश जारी करते हुए अगले साल जनवरी, फरवरी और मार्च में होने वाले कुंभ मेले के प्रमुख स्नानों के दौरान एक दिन पहले और एक दिन बाद में शादियों पर पाबंदी लगा दी है। इस आदेश की कॉपी सभी मैरेज हॉल में भेज दी गई है।

मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार प्रयागराज में 2019 के कुंभ मेले के पांच प्रमुख स्नान पर्वों के दिन के आसपास न तो कोई शादी होगी और न ही कोई निकाह पढ़ा जाएगा। यूपी सरकार ने इस आदेश की कॉपी सभी मैरेज हॉल में भेज दी है जिसके बाद से शादी करने वाले लोगों में खलबली मच गई है। बता दें कि यूपी सरकार का ऐसा आदेश आने के बाद जिनके घरों में शादी है, वे असमंजस की स्थिति में पड़ गए हैं। वहीं, आदेश की कॉपी मिलने के बाद होटल और बैंक्विट मालिकों को अपनी बुकिंग कैंसिल करनी पड़ सकती है। इसकारण उन्हें लाखों रुपए का नुकसान हो सकता है।

बता दें, कुंभ मेला प्रयागराज में जनवरी महीने से शुरू हो जाएगा। स्नान के आसपास की अवधि में सरकार ने एक सर्कुलर जारी करके सभी मैरिज हॉल और होटलों को भेजा है कि वह कुंभ के स्नान के न तो एक दिन पहले कोई शादी की बुकिंग करें और न ही स्नान के एक दिन बाद। कुंभ में जनवरी महीने में मकर सक्रांति, और पौष पूर्णिमा स्नान है जबकि फरवरी में मौनी अमावस्या, बसंत पंचमी और माघी पूर्णिमा का स्नान है। वहीं मार्च के महीने में महाशिवरात्रि का स्नान होगा जिसमें करोड़ों श्रद्धालु संगम में डुबकी लगाकर मोक्ष की कामना करने वाले है।

– ईएमएस