राजकोट : आखिरकार PUBG खेलने वालों की हुई गिरफ्तारी


Photo/Twitter

वर्तमान में गुजरात भर में कक्षा १० और १२ की बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं। वहीं प्रदेश के विभिन्न जिलों में मोबाईल गेम पबजी खेलने पर प्रतिबंध लगाया गया है। हालांकि लोगों में यह चर्चा थी कि प्रतिबंध से कुछ नहीं होगा। यदि कोई पबजी खेलेगा तो पुलिस पकड़ कर थोड़े ले जायेगी। लेकिन इन दलीलों के बीच राजकोट में पुलिस ने अलग-अलग जगहों पर रेड करके पबजी खेल रहे सात विद्यार्थियों को गिरफ्तार किया।

एक रिपोर्ट के अनुसार राजकोट पुलिस कमिश्नर मनोज अग्रवाल की सूचना से पुलिस कर्मचारियों ने पबजी खेलने वाले युवाओं और बच्चों को गिरफ्तार करने की कार्रवाई शुरू की। पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान सट्टाबाजार के नजदीक भीडभंजन सोसायटी में रहन वाले केतन मुलिया को गांधीग्राम पुलिस स्टेशन के कर्मचारियों ने सार्वजनिक रूप से पबजी खेलते हुए पकड़ा।

दूसरी ओर राजकोट तालुका पुलिस ने कॉलेजों, बगीचों में इस मामले की जांच की। इस दौरान जामखंभालिया स्थित योगेश्वर सोसायटी निवासी हर्नीश पंचाल, जागनाथ चौक के पास से चितरंजन जोशी, जामजोधपुर निवासी हरकिश बांगरोटिया, जुनागढ़ केझांझरडा रोड़ पर रहने वाले नील अघेरा को भी गिरफ्तार किया गया।

उल्लेखनीय है कि हाल में कक्षा १० और १२ की चल रही परीक्षाओं के मद्देनजर विद्यार्थियों के अभ्यास और मानसिकता पर प्रतिकुल प्रभाव न पड़े इस उद्देश्य से राजको पुलिस कमिश्नर मनोज अग्रवाल ने उक्त महत्वपूर्ण निर्णय लिया था। राजकोट में युवकों द्वारा सार्वजनिक रूप से पबजी खेलने पर ३० अप्रेल तक प्रतिबंध लगाने की अधिसूचना जारी की गई थी।