रघुवर शपथ समारोह में हो सकता है हमला, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम


रांची।झारखंड में गैरआदिवासी रघुवर दास को मुख्यमंत्री बनाए जाने के विरोध में आदिवासी संगठनों ने शुक्रवार और शनिवार को बंद रखा है। रविवार को होने वाले शपथ समारोह में नक्सलियों द्वारा हमले की साजिश रचने की भी खुफिया जानकारी है। शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई वीवीआईपी नेताओं की मौजूदगी के मद्देनजर पुलिस-प्रशासन ने त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था के तहत ८०० पुलिस अधिकारी तैनात होंगे। पुलिस प्रशासन ने इसके लिए युद्ध स्तर पर तैयारी शुरू कर दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और अन्य वीवीआई की सुरक्षा के लिए स्पेशल ब्रांच के अफसरों को लगाया गया है। वीवीआईपी को पूâलमाला दिए जाने से पहले उसकी जांच करने को भी कहा गया है।
शपथ समारोह की तैयारियों को लेकर गोपनीय शाखा में शुक्रवार देर रात तक विशेष बैठक चली। जिसमें तैयारियों की िंबदुवार समीक्षा की गई। डीआईजी प्रवीण कुमार, एसएसपी प्रभात कुमार और सिटी एसपी अनूप बिरथरे समेत अन्य पुलिस अफसरों ने वीवीआईपी मूवमेंट को लेकर रूट तय किया। अधिकारियों से स्पष्ट कहा गया कि अगर कोई चूक हुई तो संबंधित क्षेत्र के अफसर जिम्मेदार होंगे। बैठक में एयरपोर्ट से सभास्थल तक सुरक्षा के िंबदुओं पर भी कई आदेश जारी किए गए हैं। पुलिस-प्रशासन को शनिवार रात तक तैयारी पूरी करने का समय दिया गया है। वहीं एसपीजी को भी सुरक्षा व्यवस्था और इसकी तैयारियों की जानकारी दी गई है।
०रघुवर की संभावित वैâबिनेट
रघुवर वैâबिनेट में मुख्यमंत्री सहित १२ मंत्री होंगे। सीपी िंसह, सरयू राय, लुईस मरांडी, अशोक भगत, अनंत ओझा, राज पालिवार, दिनेश उरांव, नीलवंâठ िंसह मुंडा, विरंची नारायण, केदार हाजरा, पूâलचंद मंडल, राधाकृष्ण किशोर, रामचंद्र चंद्रवंशी व सत्येंद्र नाथ तिवारी को मंत्री बनाया जा सकता है। आजसू से चंद्रप्रकाश चौधरी व कमल किशोर भगत वैâबिनेट में शामिल हो सकते हैं। सीपी िंसह व सरयू राय में से एक को स्पीकर बनाया जा सकता है।