अमेरिका-यूरोप में भारतीयों को परेशान करने पाक रोजाना चल रहा नई चाल


भारत के खिलाफ लगातार सा‎जिश रच रहे पाकिस्‍तान का दोगला चेहरा एक बार फिर सामने आया है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। भारत के खिलाफ लगातार सा‎जिश रच रहे पाकिस्‍तान का दोगला चेहरा एक बार फिर सामने आया है। एक तरफ पाकिस्‍तान लगातार शांति और सहयोग की अपील भारत से लगातार कर रहा है, वहीं दूसरी ओर पाकिस्‍तान हर वह कोशिश कर रहा है, जिससे भारतीयों को परेशान किया जा सके। इस बार पाकिस्‍तान ने यूरोप और अमेरिका में रहने वाले भारतीयों के खिलाफ नई चाल चली है। यह चाल ऐसी है, जिससे यूरोप और अमेरिका में रहने वाले भारतीयों और व्‍यवसाय के सिलसिले में भारत आने वाले विदेशी कारोबारियों की आवाजाही को रोका जा सके। भारतीय विमानन क्षेत्र से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी के मुता‎बिक, पाकिस्‍तान ने अपनी यह चाल अपने एयरस्‍पेस के जरिए चली है। भारतीय वायुसेना की आतंकियों के खिलाफ पाकिस्‍तान में की गई कार्रवाई के बाद पाकिस्‍तान बुरी तरह से बौखलाया हुआ है। 26 फरवरी के बाद से पाकिस्‍तान ने एयरस्‍पेस को बंद कर रखा है। 26 फरवरी से आज तक किसी भी गैर-पाकिस्‍तानी विमान को पाकिस्‍तानी एयरस्‍पेस से गुजरने की अनुम‎ति नहीं दी है। उन्‍होंने बताया कि एयर स्‍ट्राइक के बाद भारत ने एक दिन के लिए भी अपना एयरस्‍पेस बंद नहीं किया है। जबकि पाकिस्‍तान हर दिन अपने एयरस्‍पेस क्‍लोजर के नोटम को बढ़ाता जा रहा है।

भारतीय एयरलाइंस से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि पाकिस्‍तान के एयरस्‍पेस से गुजरने वाले विमान किसी नई योजना पर काम न कर सकें, इसके लिए पाकिस्‍तानी एविएशन अथॉरिटी रोज नए आदेश जारी कर रही है। रोज शाम को वह अगले दिन के एयरस्‍पेस क्‍लोजर का नोटम जारी कर रहे हैं। जिसका असर भारत से यूरोप और अमेरिका जाने वाली फ्लाइट्स पर पड़ रहा है। उन्‍होंने बताया कि पाकिस्‍तान एयरस्‍पेस बंद होने के चलते भारत से यूरोप और अमेरिका आने -जाने वाली फ्लाइट्स को करीब डेढ़ से दो घंटे की अधिक दूरी तय करनी पड़ रही है। उन्‍होंने बताया कि यात्रा का समय बढ़ने की वजह से गंतव्‍य एयरपोर्ट पर विमान के लैंड होने और दोबारा टेक-ऑफ के लिए स्‍लॉट लेने में परेशानी आ रही हैं। इसके अलावा, विमान की इंगेजमेंट और ईंधन खपत भी बढ़ रही है। इसके अलावा, इस विमान में तैनात क्रू के ड्यूटी आवर्स में खासा इजाफा हुआ है। उन्‍होंने बताया कि अमेरिका और यूरोप जाने वाली लगभग सभी डायरेक्‍ट फ्लाइट 13 से 16 घंटे का सफर तय करती है। इस सफर के समय में दो घंटे का इजाफा होने पर फ्लाइट-क्रू के लिए भी परेशानी खड़ी हो रही हैं। इन्‍हीं परेशानियों का नतीजा है कि एयरलाइंस दिल्‍ली से यूरोप और अमेरिका के बीच अपनी उड़ानों को बंद कर रही हैं।

– ईएमएस