भाजपा को चुनाव से पहले मिला 144 करोड़ रू का अब तक सबसे बड़ा चंदा


भाजपा को सबसे बड़ा दान मिला है। ७ प्रमुख कंपनियों के एक समूह ट्रस्ट ने कुल १६९ करोड़ रु में से १४४ करोड़ रु का दान दिया है।
(Photo: IANS)

नई दिल्ली। वित्त वर्ष २०१७-१८ में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को अब तक का सबसे बड़ा दान मिला है। ७ प्रमुख कंपनियों के एक समूह ट्रस्ट ने सत्ताधारी पार्टी को कुल १६९ करोड़ रु में से १४४ करोड़ रु का दान दिया है। प्रूडेंट इल्केट्रोरल ट्रस्ट ने रिपोर्ट जारी करते हुए कहा कि उसने कांग्रेस और बीजू जनता दल को भी दान दिया है। अब तक हमेशा से छोटी राजनीतिक पार्टियों को दान देने वाले इस ट्रस्ट ने पहली बार राष्ट्रीय स्तर की पार्टी को सबसे बड़ा दान दिया है।

कौन-सी है कंपनियां

प्रूडेंट ट्रस्ट को पहले सत्या इलेक्ट्रोरल ट्रस्ट के नाम से जाना चाहता था। जिन कंपनियों ने इस ट्रस्ट के जरिए दान दिया है उनमें डीएलएफ (५२ करोड़), भारती ग्रुप (३३ करोड़), श्रॉफ ग्रुप २२ करोड़, टोरेंट ग्रुप (२० करोड़), डीसीएम श्रीराम (१३ करोड़), केडिला ग्रुप (१० करोड़) और हल्दिया एनर्जी (८ करोड़) शामिल हैं। इस ग्रुप ने मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पार्टी को उस वक्त केवल १० करोड़ रुपये दिए थे। ५ करोड़ रुपये ट्रस्ट ने बीजू जनता दल को दिए थे।

इससे पहले ट्रस्ट ने शिरोमणि अकाली दल, समाजवादी पार्टी, आम आदमी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल को भी दान दिया था। देश की ९० फीसदी कंपनियां केवल इस ट्रस्ट के जरिए ही राजनीतिक पार्टियों को चंदा देती हैं। भाजपा को १८ किश्तों में यह चंदा दिया था। कांग्रेस को ४ और बीजेडी को ३ चेक के जरिए पैसा दिया था। देश में इस स्त्रमय २२ पंजीकृत इलेक्ट्रोरल ट्रस्ट हैं, जिनमें प्रूडेंट सबसे बड़ा है।

– ईएमएस