बच्चे पैदा करने के लिए मर्दानगी की जरूरत होती है: आजम


लखनऊ। एक बार फिर अपने बयान से विवादों में है। उन्होंने हिंदू संगठनों पर निशाना साधते हुए कह डाला कि पुरस्कार बांटने से बच्चे पैदा नहीं होंगे। बच्चे पैदा करने के लिए मर्दानगी की जरूरत होती है। आजम खान ने यह बयान लखनऊ में अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के मौके पर दिया। उन्होंने किसी पार्टी का नाम लिए बगैर कहा कि पुरस्कार बांटने से बच्चे पैदा नहीं होते, इसके लिए मर्दानगी चाहिए होती है। वहीं, बीजेपी ने कहा कि आजम देश में बंटवारे की राजनीति को हवा देने की कोशिश कर रहे हैं और उनके बयानों को गंभीरता से नहीं लिया जाए। आपको बता दें कि इससे पहले शिवसेना ने भी उत्तर प्रदेश Óहिंदू आबादी बढ़ाओÓ अभियान चलाने का ऐलान किया था। शिवसेना के यूपी अध्यक्ष अनिल सिंह ने तो यह तक ऐलान कर दिया था कि हिंदू दंपतियों के १० से अधिक बच्चे होने पर उन्हें २१ हजार रुपये पुरस्कार भी दिया जाएगा। इस बयान से भी काफी विवाद हुआ और नेताओं की बहुत प्रतिक्रियाएं आई थी। तो यह कहा जा सकता है कि आजम का यह बयान शिवसेना के ऊपर निशाना था।