योग के प्रति चीन में बढ़ा आकर्षण, स्थापित होंगे 50 नए योग कॉलेज


चीन में योग की लोकप्रियता को देखते हुए युन्नान प्रांत स्थित पहले योग कॉलेज ने देश में 50 शाखाएं खोलने की योजना बनाई है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। भारतीय योग परंपरा को लेकर चीन के लोगों में आकर्षण बढ़ रहा है। यहां मानसिक और आध्यात्मिक रूप में स्वस्थ जीवन जीने की प्राचीन कला ‘योग’ की लोकप्रियता बढ़ रही है। चीन में योग की लोकप्रियता को देखते हुए युन्नान प्रांत स्थित पहले योग कॉलेज ने देश में 50 शाखाएं खोलने की योजना बनाई है। अब चीन में योग के 50 कॉलेज और खुलेंगे। चीन की सरकारी मीडिया ने इस बात की जानकारी दी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के बाद साल 2015 में कुनमिंग की ‘युन्नान मिन्जू यूनिवर्सिटी’ में पहला ‘चीन-भारत योग कॉलेज’ स्थापित किया गया था। खबर के अनुसार युन्नान विश्वविद्यालय में उनकी पहली शाखा लिजिआंग में खोलने की घोषणा की गई थी। बढ़ती मांग पर गौर करते हुए ‘चीन-भारत योग कॉलेज’ ने इसे विभिन्न शहरों तक पहुंचाने का संकल्प लिया है।
चीन-भारत योग कॉलेज के डीन चेन लुयान के हवाले से कहा, ‘योग शिक्षा और शिक्षक प्रशिक्षण को बढ़ावा देने के लिए कुल 50 शाखाएं खोलीं जाएंगी। इस साल 21 जून को संयुक्त राष्ट्र अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम में भारत के बाद सबसे अधिक चीनी नागरिकों ने ही हिस्सा लिया था।

ज्ञात हो कि पिछले साल अक्टूबर में भारत-चीन कॉलेज ने अपने पोस्‍ट ग्रेजुएट कोर्स के लिए रजिस्‍ट्रेशन शुरू कर दिया है। यह चीन का पहला योग कॉलेज है। यह तीन साल का एक कोर्स है, जिसमें शुरू के दो साल की पढ़ाई चीन में और आखिरी साल की पढ़ाई भारत में करनी होगी।

– ईएमएस