आतंकियों के गढ़ में लहराया 68 फीट ऊंचा तिरंगा


पहलगाम में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने 68 फीट की ऊंचाई पर तिरंगा और 63 फीट ऊंचा सीआरपीएफ का झंडा फहराया।
Photo/Twitter

श्रीनगर। दक्षिण कश्मीर में आतंकियों के गढ़ पहलगाम में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने 68 फीट की ऊंचाई पर तिरंगा और 63 फीट ऊंचा सीआरपीएफ का झंडा फहराया। सीआरपीएफ के महानिरीक्षक जुल्फिकार हसन ने बताया कि यह कश्मीर में अब तक फहराया गया सबसे ऊंचा तिरंगा है। तिरंगा एक दिसंबर को अंनतनाग जिले के पहलगाम में स्थित सीआरपीएफ की बटालियन के मुख्यालय में फहराया गया। हसन ने कहा इस कदम का उद्देश्य घाटी में पर्यटन को बढ़ावा देना और पर्यटकों को प्रोत्साहित करना है। बता दें कि पर्यटन ही कश्मीर के लोगों की आमदनी का मुख्य जरिया है। लेकिन आतंकी गतिविधियों की वजह से यहां पर्यटकों की संख्या में कमी देखी गई है, जिससे राज्य का पर्यटन लगभग ठप हो गया है।

जुल्फिकार हसन ने कहा कि यदि हमारे पास राष्ट्रीय ध्वज है और सीआरपीएफ पहलगाम जैसे कश्मीर के मश्हूर पर्यटक स्थलों में ऊंचा तिरंगा फहरा रहे हैं, तो लोगों को पता चलेगा कि स्थिति सामान्य है और कश्मीर पर्यटकों के लिए सुरक्षित है। उन्होंने कहा तिरंगा फहराने का दूसरा मकसद क्षेत्र में तैनात सीआरपीएफ के बीच राष्ट्रवाद की भावना पैदा करना है।
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यह तिरंगा रात को भी रोशनी से जगमगाता रहेगा। पर्यटक और नागरिक आसानी से रात में तिरंगे को देख सकेंगे।

सीआरपीएफ की 116वीं बटालियन के कमांडेंट राज कुमार ने कहा श्रीनगर हवाई अड्डे पर भी एक तिरंगा हैं और वह ऊंचा हो सकता है, लेकिन यदि हम पहलगाम की ऊंचाई पर विचार करें, तो शायद यह घाटी में सबसे ऊंचे बिन्दु पर है, जहां से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पहलगाम वार्षिक श्री अमरनाथ यात्रा के लिए आधार शिविर के रुप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

– ईएमएस