मैं लैंड करके काॅल करुंगी कह कर बैठी थी प्लेन में


(Photo Credit : ibtimes.co.in)

रविवार को अदिस अबाबा से उड़ान भरने के कुछ ही मिनटों बाद, इथियोपियन एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस विमान में 157 लोग मारे गए। इस लोगों में कुछ भारतीय भी थे तथा कुछ भारत मूल के प्रवासी भी थे। भारत के लोगों में से एक नवविवाहित महिला की भी इस प्लेन क्रैश में मौत हो गई।

शिखा ने विमान में चढ़ते ही पति सौम्या भट्टाचार्य को मैसेज किया। मैं विमान में सवार हो गई हूं, विमान लैंड होते ही मैं आपको फोन करूंगी। इसके कुछ ही क्षण बाद इथियोपियन एयरलाइंस के विमान ने अदिस अबाबा से उड़ान भरी तथा कुछ ही मिनटों बाद यह विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें मारे गए भारतीयों में शिखा गर्ग भी शामिल हो गई।

(Photo Credit : intoday.in)

सुबह 10.15 बजे पति सौम्या ने पत्नी का मैसेज पढ़कर जवाब लिखना शुरू किया, लेकिन तभी उसका फोन बज गया और आवाज आई कि आपकी पत्नी का विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। यह सुन कर सौम्या की आँखों के सामने अंधेरा छा गया। दोनों की शादी को केवल 3 महीने ही हुए थे। शिखा, जो पर्यावरण मंत्रालय में एक सलाहकार के रूप में काम कर रही थीं, UNEP की एक बैठक में भाग लेने के लिए नैरोबी जा रही थीं।सौम्या और उनका परिवार दिल्ली के पश्चिम विहार में रहते हैं।

शिखा ने महीने के अंत में यात्रा की योजना बनाई थी और टिकट बुक करने के बाद, सौम्या ने कहा कि वह भी उसके साथ नैरोबी जाएंगे, ताकि दोनों अफ्रीकी छुट्टी मना सकें। अपना टिकट बुक करने के बावजूद, सौम्या को एक मीटिंग के कारण अपनी योजना बदलनी पड़ी।अगर अंतिम समय में शिखा के पति की योजना नहीं बदली होती, तो शायद वह भी इस दुर्घटना का शिकार हो जाता।

(Photo Credit : intoday.in)

नवविवाहित शिखा गर्ग और सौम्या भट्टाचार्य ने साथ ना जा पाने के कारण शनिवार को नैरोबी से आने के बाद छुट्टी की योजना भी बनाई थी। अप्रैल में दोनों की शादी के तीन महीने पूरे होने वाले थे और दोनों ने इस खास दिन के लिए काफी प्लानिंग की थी। शिखा की अचानक मृत्यु के कारण सभी सपनों पर पानी फिर गया।

प्लेन में हुए क्रैश में मरे 157 में भारत के 4 लोग तथा भारत मूल के कैनेडा रहने वाले 6 लोगों में शिखा का भी नाम शामिल हो गया। कुछ दिनों में शिखा के पार्थिव शरीर को दिल्ली लाया जाएगा।