वोटबैंक की राजनीति कर रही कांग्रेस : मोदी


(Photo: Shaukat Ahmed/IANS)

अजमेर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कांग्रेस पर एक परिवार के लिए कार्य करने का आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी वोटबैंक की राजनीति कर रही है और झूठ फैला रही है।

यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने भारतीय सशस्त्र बलों की वीरता को प्रदर्शित करने वाली सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने के लिए भी कांग्रेस पर निशाना साधा।

वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा, “भाजपा अपनी सरकार के किए कार्यो का रिपोर्ट कार्ड प्रस्तुत करने में विश्वास रखती है, चाहे व राजस्थान हो या मध्य प्रदेश या फिर छत्तीसगढ़।”

मोदी ने कहा, “भाजपा लोगों के सामने रिपोर्ट कार्ड रखने में अपना चेहरा कभी नहीं छिपाती। लेकिन, कांग्रेस झूठ फैलानी में लगी है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा की झूठ बोलने की आदत नहीं है क्योंकि वह ‘सर्व जन हिताय’ और ‘सर्व जन सुखाय’ के मंत्र पर कार्य करती है।

उन्होंने कहा, “लेकिन, विपक्ष को वोटबैंक की राजनीति करने का शौक है और जो वोट बैंक की राजनीति करते हैं उन्हें हिंदू-मुस्लिम, युवा-बुजर्ग, अगड़े-पिछड़े, जाति-बिरादरी और महिला-पुरुष के मुद्दों में मजा अता है।”

मोदी ने कहा, “जब भी उन्हें मौका मिलता है, वे समाज को बांटने का प्रयास करते हैं।” उन्होंने कहा कि लोगों को तोड़ना बहुत आसान है लेकिन उन्हें एक करना बहुत मुश्किल।

वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा, “भाजपा समाज को एक करने में विश्वास रखती है।”

मोदी ने कहा, “और यह वोट बैंक की राजनीति चुनाव तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह बहुत लंबे समय से चली आ रही है।”

उन्होंने कहा कि वोट बैंक की राजनीति का नतीजा है कि जिस गरीब ने उन्हें वोट किया था, वही अगले पांच साल उन्हें कोसता रहता है।

मोदी ने कहा, “कांग्रेस 60 वर्षो से वोट बैंक की राजनीति की परंपरा का पालन करती आ रही है।”

कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं पर एक परिवार की पूजा करने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा, “जब मैं यहां पहुंचा तो (मुख्यमंत्री) वसुंधरा राजे जी ने मुझे बताया कि कांग्रेस नेता विधानसभा में उपस्थित नहीं रहते, वे सवाल नहीं उठाते और न ही बहसों में भाग लेते हैं।”

मोदी ने कहा, “उन्हें (कांग्रेस सदस्यों को) यह सब करना पसंद नहीं है क्योंकि वह एक परिवार की सेवा करने में व्यस्त हैं, वे एक परिवार की पूजा करने में व्यस्त हैं।”

मोदी ने कहा, “उनके लिए उनका हाईकमान एक परिवार है, लेकिन भाजपा के लिए हमारा हाईकमान राज्य के साढ़े सात करोड़ लोग हैं।”

मोदी ने भीड़ से सवाल किया, “क्या ऐसी ताकतों को सत्ता में आने की इजाजत दी जानी चाहिए?”

उन्होंने कहा, “हमें उन्हें फिर से सत्ता में वापसी की इजाजत नहीं देनी चाहिए।”

मोदी ने कहा कि कांग्रेस विपक्ष के रूप में भी विफल साबित हुई है।

उन्होंने कहा, “मैंने पहले कहा था कि एक चतुर विपक्ष होना चाहिए, उसे लोगों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील होना चाहिए, सरकार के कार्यो में सहयोग करना चाहिए, बहसों में भागीदारी निभानी चाहिए और सरकार को आइडिया देना चाहिए।”

मोदी ने कहा, “लेकिन, दुर्भाग्यवश वे न केवल सरकार बनाने में विफल रहे बल्कि वे विपक्ष के रूप में भी विफल साबित हुए।”

उन्होंने कहा, “वे कड़ी मेहनत नहीं करते, इसलिए उन्होंने झूठ और गलत प्रचार की मदद ली। जब हमने उन्हें बहस के लिए बुलाया तो वह भाग खड़े हुए।”

पराक्रम पर्व के रूप में सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ पर सवाल उठाने के लिए कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा, “जब मैं पिछले सप्ताह बहादुर जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए राजस्थान आया तो उन्होंने झूठ फैलाया कि मैं यहां चुनावी बिगुल फूंकने आया हूं।”

उन्होंने कहा, “लेकिन, मैं यहां हमारे सशस्त्र बलों की वीरता का जश्न मनाने आया था, मैं यहां सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ मनाने आया था।”

उन्होंने कहा कि सितम्बर 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक ने हमारे जवानों की बहादुरी को दर्शाया था।

उन्होंने कहा, “लेकिन कांग्रेस को क्या हुआ? क्या उनकी राजनीति इतनी नीचे गिर चुकी है कि उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक की महत्ता को कम कर दिया? उन्हें सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने के लिए शर्म आनी चाहिए।”

मोदी ने यह भी कहा कि कांग्रेस ने किसानों के लिए फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं बढ़ाया लेकिन भाजपा ने यह कर दिखाया।

राजस्थान में विधानसभा चुनाव सात दिसम्बर को होने वाले हैं।

-आईएएनएस