पूरे उत्तर भारत में शीत लहर का दौर जारी, कई फ्लाइट रद्द, ट्रेनें हूई लेट


उत्तरपश्चिम की ओर से रही सर्द हवाओं ने पूरे उत्तर भारत को अपनी चपेट में ले ‎लिया है। खासतौर पर ‎दिल्ली में ठंड का असर जोरों पर है।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। उत्तरपश्चिम की ओर से रही सर्द हवाओं ने पूरे उत्तर भारत को अपनी चपेट में ले ‎लिया है। खासतौर पर ‎दिल्ली में ठंड का असर जोरों पर है। कंपकपाती इस ठंड के चलते आवाजाही भी प्रभा‎वित हो रही है। ‎‎दिल्ली में गुरुवार सुबह 7 बजे तापमान 7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं बुधवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 4.5 डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं आंशिक रूप से छाए बादलों के बीच अधिकतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। यह सामान्य से एक डिग्री कम 19.5 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम के इस बदलते ‎मिजाज के चलते दिल्ली में सुबह कोहरा छाया रहा। ‎जिसके चलते कई फ्लाइट रद्द की गई तो ट्रेनें भी देरी से चलीं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुता‎बिक दिन में आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहने के कारण ज्यादा धूप नहीं निकलेगी और मौसम ठंडा रहेगा।

मौसम ‎विभाग के एक अ‎धिकारी ने बताया ‎कि उत्तरपश्चिम से आ रही सर्द हवाओं के कारण ‎दिल्ली में ठंड सामान्य से ज्यादा हैं उन्होंने कहा, और दो-तीन दिनों तक ठंड और सर्द हवाओं का दौर बना रहेगा, इसके बाद धीरे-धीरे मौसम गर्म होना शुरू होगा। बता दें ‎कि कोहरे के चलते दिल्ली आ रहीं 11 ट्रेनें देरी से चल रही हैं। ओडिशा के पुरी और बिहार के गया से चलने वाली ट्रेनें पांच घंटे लेट हो गईं। तेज हवाओं के कारण दिल्ली में समग्र वायु गुणवत्ता खराब स्तर पर है। हालांकि, मुंडका, जहांगीरपुरी, अशोक विहार, बुराड़ी, आईटीओ, एनएसआईटी द्वारका, आरके पुरम, रोहिणी जैसे कुछ क्षेत्रों में प्रमुख प्रदषक पीएम 2.5 के साथ वायु गुणवत्ता बहुत खराब की कैटेगरी में दर्ज हुई. आईएमडी ने गुरुवार को राष्ट्रीय राजधानी में कुछ स्थानों पर शीतलहर की स्थिति बने रहने और न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस के आसपास बने रहने का अनुमान लगाया है।

Photo/Twitter

दिल्ली के अलावा पंजाब और हरियाणा के ज्यादातर इलाकों में ठंड का कहर अब भी जारी है, इसके साथ ही 2.4 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ करनाल प्रदेश का सबसे ठंडा शहर रहा। मौसम विभाग के अनुसार पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी और केंद्र शासित प्रदेश, चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस रहा। पंजाब के इन शहरों अमृतसर, लुधियाना और पटियाला में तापमान क्रमश: 3.6, 4.1 और 4.1 डिग्री सेल्सियस ‎रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री कम है। पठानकोट, हलवाड़ा, आदमपुर, गुरदासपुर, बठिंडा और फरीदकोट में सबसे कम तापमान क्रमश: 5.6, 4.2, 3, 4.7, 3 और 3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किए गया। हरियाणा में अंबाला, हिसार और नारनौल में न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री नीचे तक क्रमश: 4.8, 3.7 और 3.5 डिग्री सेल्सियस रहा। रोहतक, भिवानी और सिरसा में क्रमश: 4.8, 6.5 और 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री कम है। जानकारी के अनुसार पटियाला, लुधियाना, करनाल और अमृतसर स‎हित कई शहरों कें कोहरा जमा रहा।

वहीं अगर मध्य प्रदेश की बात की जाए तो यहां पर भी ठंड का दौर जोरों पर है। प्रदेश के कई ‎हिस्सों में शीतलहर के कारण ‎ठिठुरन महसूस हो रही है। राजधानी भोपाल सहित राज्य के अन्य हिस्सों में गुरुवार की सुबह ठिठुरन भरी रही। राज्य में आने वाली उत्तरी हवाओं से यहां पर ठंड बड़ी है। सुबह से ही हवाओं का असर बने होने के कारण ठंड के तेवर और भी तीखे हो गए हैं। हांला‎कि मौसम साफ होने के कारण ‎दिन भर धूप ‎‎‎खिली रही। . प्रदेश में नौगांव सबसे ठंडा रहा जहां तापमान 2.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में राज्य का मौसम शुष्क रहने की संभावनाएं जा‎हिर की हैं। वहीं भोपाल शहर का न्यूनतम तापमान 7.4 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 9.4, ग्वालियर का 3.4 और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 5.2 सेल्सियस ‎रिकॉर्ड किया गया। इसके साथ ही कश्मीर में खराब मौसम के चलते कई फ्लाइट रद्द करनी पड़ी। जानकारी के अनुसार 22 उड़ानें रद्द की गयीं। एयरपोर्ट अथॉरिटी के एक अधिकारी ने बताया ‎कि बर्फबारी के चलते श्रीनगर हवाई अड्डे पर खराब मौसम के कारण इन उड़ानों को रद्द करना पड़ा। उन्होंने कहा कि दोपहर के समय बर्फबारी और ज्यादा होने लगी। वही सुबह केवल पांच उड़ानों का परिचालन ‎किया जा सका।

– ईएमएस