सईद को सोनिया की बधाई, सरकार पर कश्मकश


श्रीनगर । जम्मू कश्मीर में सरकार गठन को लेकर पीपुल्स डेमोव्रेâटिक पार्टी (पीडीपी) ने सरकार बनाने को लेकर भारतीय जनता पार्टी से हुइ आधिकारिक बातचीत का खण्डन करते हुए कहा कि इसमें और अधिक समय की संभावना है। इस दौरान सोनिया गांधी ने मुफ्ती मोहम्मद सईद को फोन पर जीत की बधाई दी है। इस बधाई को लेकर के कई कयास लगाये जा रहे हैं। माना जा रहा है कि कांग्रेस भी सरकार में सक्रिय भूमिका निभाना चाहती है। पीडीपी प्रवक्ता नईम अख्तर ने बताया कि सरकार गठन पर सभी र्पािटयों से बातचीत चल रही है और मुफ्ती मोहम्मद सईद फिलहाल दिल्ली नहीं जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि अभी इसमें और वक्त लगेगा जिसकी जानकारी वो राज्यपाल को देगें। वहीं दूसरी ओर भाजपा महासचिव राम माधव का कहना है कि सूबे में अगले सरकार के गठन में बीजेपी की अहम भूमिका होगी। फिलहाल सरकार बनाने पर चर्चा हो रही है। राम माधव ने यह भी माना कि जनादेश पीडीपी और नेशनल कॉन्प्रेंâस के पक्ष में है।
– सरकार बनाने को लेकर समीकरण क्या?
पीडीपी ने साफ है कि सरकार बनाने को लेकर वे सभी र्पािटयों से बात कर रहे है। पीडीपी इस मामले में जल्दबाजी नहीं करना चाह रही है। फिलहाल पीडीपी कोर ग्रुप और राजनीतिक मामलों की कमेटी सरकार बनाने को लेकर विजन, पॉलिसी और प्रोग्राम पर चर्चा कर रही है। इस मामले में नीति तय होने के बाद ही मुफ्ती मोहम्मद सईद प्रधानमंत्री मोदी से मिलेंगे। सूत्रों के अनुसार पीडीपी को भाजपा के साथ जाने से जम्मू-कश्मीर में नुकसान का डर है।
भाजपा ने पीडीपी रखी ये शर्तें
पहली तो स्वराज के प्रस्ताव का सम्मान हो अर्थात् एलओसी पर नरमी बरती जाए। दूसरी जम्मू कश्मीर के शांतिपूर्ण इलाकों से अफसफा हटाया जाए। तीसरी प्रदेश में धारा ३७० जैसे मुद्दों को किनारे रखा जाए। वहीं मुफ्ती मुहम्मद सईद पूरे ६ साल तक मुख्यमंत्री रहेंगे।
अंतिम बाढ़ पीड़ितों के लिए ठोस र्आिथक पैकेज रखा जाए।