जम्मू-कश्मीर के पहले िंहदू सीएम होगें जितेन्द्र िंसह


जम्मू। जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव में भाजपा के अब तक के सबसे बेहतर प्रदर्शन में २५ सीटें जीतने के बाद सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि नेशनल कॉन्प्रेंâस की मदद से भाजपा जम्मू कश्मीर में सरकार बनाने जा रही है। पीएमओे में राज्यमंत्री जितेंद्र िंसह को जम्मू-कश्मीर में विधायक दल का नेता चुना जाएगा जिसका ऐलान संभवत: शुक्रवार को किया जा सकता है। हालांकि नेशनल कांपेâस के नेता उमर अब्दुल्ला ने गुरुवार रात ट्वीट कर सरकार बनाने के लिए भाजपा से किसी भी तरह के डील होने से इनकार किया है। जम्मू कश्मीर में अगली सरकार भाजपा और नेशनल कांप्रेंâस के गठजोड़ से अगर बनती है तो जम्मू कश्मीर राज्य को जितेंद्र िंसह के रूप में अपना पहला हिन्दू मुख्यमंत्री मिल सकता है सूत्रों का कहना है कि जितेंद्र िंसह का नाम तय हो गया है ५८ वर्षीय जितेंद्र िंसह पेशे से डॉक्टर हैं और वे ऊधमपुर से भाजपा सांसद हैं। वैसे जो ाqस्थति अभी सामने है उसके हिसाब से भारतीय जनता पार्टी ने िंहदू मुख्यमंत्री की शर्त रखी है, जिस कारण उसकी नेशनल कांप्रेंâस (नेकां) से समर्थन की बात नहीं बन पा रही है। दोनों र्पािटयों के नेतृत्व ने गुरुवार को आपसी बैठक होने से इनकार किया। वेंâद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि जम्मू एवं कश्मीर में सरकार गठन में भारतीय जनता पार्टी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। वहीं, भाजपा महासचिव राम माधव ने कहा कि यहां भाजपा की ही सरकार बनेगी जिसके लिए विभिन्न विकल्पों की तलाश की जा रही है। नेकां भाजपा नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल होने के लिए तैयार है, लेकिन उसकी शर्त है कि भाजपा को िंहदू मुख्यमंत्री की मांग छोड़नी होगी।
गौरतलब है कि भाजपा देश के इस सीमांत उत्तरी राज्य में ‘मिशन ४४’ के साथ चुनाव में उतरी थी, मगर कामयाब नहीं हो पाई। पार्टी को िंहदू बहुल जम्मू क्षेत्र में २४ और मुाqस्मल बहुल कश्मीर घाटी में एक सीट ही मिली।
रघुवर दास होंगे झारखंड के नये मुख्यमंत्री
रांची। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास झारखंड के नये मुख्यमंत्री होंगे। वेंâद्रीय पर्यवेक्षक जेपी नड्डा और विनय सहस्रबुद्धे की मौजूदगी में आज भाजपा विधायक दल की हुई बैठक सर्वसम्मति से रघुवर दास को विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। राज्य के १०वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले रघुवर दास जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र से लगातार पांचवीं बार चुन कर आये है। रघुवर दास झारखंड में पहले गैर-आदिवासी मुख्यमंत्री होंगे।
भाजपा प्रदेश कार्यालय में पार्टी विधायक दल की बैठक में सर्वसम्मति से रघुवर दास को विधायक दल का नेता चुने जाने का निर्णय लिया। बैठक समाप्त होने के बाद वेंâद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में रांची पहुंचे जेपी नड्डा ने संवाददाता सम्मेलन में विधायक दल के नये नेता के नाम की औपचारिक रूप से घोषणा की। जेपी नड्डा ने बताया कि भाजपा विधायक दल मंडल की बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता और खूंटी विधायक नीलवंâठ सिंह मुंडा ने रघुवर दास को नेता चुने जाने का प्रस्ताव रखा, जिसका विधायक सरयू राय और सीपी सिंह ने समर्थन किया और सर्वसम्मति से रघुवर दास को नेता स्वीकार कर लिया गया। वेंâद्रीय पर्यवेक्षक ने भाजपा गठबंधन को पूर्ण बहुमत देने के लिए राज्य की जनता को बधाई दिया और यह भरोसा दिलाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सबका साथ-सबका विकास के नारे के तहत विकास किया जाएगा।
विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद रघुवर दास ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि जनता ने भाजपा गठबंधन पर विश्वास कर जो समर्थन दिया है, उन जनआकांक्षाओं पर पार्टी पूरी तरह से खरा उतरेगी। उन्होंने कहा कि नयी सरकार आदिवासियों, अल्पसंख्यकों समेत सभी वर्गाें के विकास पर ध्यान देगी।
भाजपा विधायक दल की बैठक में पार्टी के वेंâद्रीय पर्यवेक्षक जेपी नड्डा व विनय सहस्रबुद्धे के साथ ही विशेष रूप से पार्टी प्रभारी त्रिवेंद्र सिंह रावत, चुनाव के सह प्रभारी रहे भूपेंद्र यादव और प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र राय मौजूद थे। इस बैठक में विशेष रूप से पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा को भी आमंत्रित किया गया था। बैठक में पार्टी के सभी नवनिर्वाचित ३७ विधायक मौजूद थे।