गुजरात के 43 प्रतिशत किसान कर्ज में डूबे


केन्द्रीय कृषि मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात के 43 प्रतिशत किसान कर्ज में डूबे हैं ।
Photo/Twitter

अहमदाबाद । केन्द्रीय कृषि मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात के 43 प्रतिशत किसान कर्ज में डूबे हैं । गुजरात में 58.72 लाख ग्रामीण परिवार हैं और उसमें से 66.09 प्रतिशत लोग कृषि और उससे संबंधित व्यवसाय से जुड़े हैं। जिसमं 16.74 लाख परिवार कर्जदार हैं। इन किसानों ने कृषि के लिए बैंकों से ऋण लिया है। 34.91 लाख में 5.34 लाख परिवार फसल या टर्म लोन ली है, जिसकी कुल रकम रु. 54277 करोड़ है| जिसमें रु. 20412 करोड़ की लोन कृषि साधनों की खरीद के लिए ली गई है। शेष 33884 रुपए की लोन फसल के लिए ली गई है। गुजरात में फसल ऋण लेनेवाले किसानों की संख्या में 55 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। वर्ष 2014-15 में 22.49 लाख किसानों ने ऋण लिया था, जबकि 2016-17 में यह संख्या बढ़कर 34.94 लाख हो गई। फसलों के लिए ली गई लोन रु. 28730 करोड़ से बढ़कर रु. 33864 करोड़ पर पहुंच गई है। दो साल की टर्म लोन लेनेवाले किसानों की संख्या में 40 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वर्ष 2014-15 में 3.88 लाख किसानों ने रु. 10597 करोड़ की टर्म लोन ली थी, जो वर्ष 2016-17 में बढ़कर रु. 20412 करोड़ हो गई।

– ईएमएस