गुजरात में नेतन्‍याहू, जय हिंद, जय भारत के साथ कहा, जय इजरायल!


पीएम ने कहा दोनों देश आशावदी
अहमदाबाद (ईएमएस)। भारत दौरे पर आए इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्‍याहू बुधवार को गुजरात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हैं। धोलेरा गांव में उन्‍होंने आइक्रिएट सेंटर का उद्घाटन कर उद्योगपतियों से मुलाकात की। इस दौरान दोनों देशों के प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में एक दूसरे के प्रति आभार भी व्‍यक्‍त किया। बुधवार को गुजरात दौरे की शुरुआत पीएम मोदी के साथ रोड शो से किया। इसके बाद साबरमती आश्रम में राष्‍ट्रपिता को श्रद्धांजलि दी।
आइक्रिएट सेंटर में नेतन्‍याहू ने तमाम उद्योगपतियों को संबोधित करते हुए आखिर में उन्‍होंने जय हिंद!जय भारत!के साथ जय इजरायल कहा और प्रधानमंत्री मोदी को धन्‍यवाद अदा किया। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में नेतन्‍याहू के प्रति आभार व्‍यक्‍त किया। उन्‍होंने कहा,दोनों देश भविष्‍य को लेकर आशावादी हैं। जब मैं पिछले साल इजरायल गया तभी सोच लिया था कि इस फाउंडेशन का इजरायल के साथ मजबूत संबंध होना चाहिए। तब से मैं अपने दोस्‍त बेंजामिन नेतन्‍याहू के भारत आने का इंतजार कर रहा था। आइक्रिएट के नॉलेज पार्टनर तीन देश इजरायल,अमेरिका और कनाडा हैं। यह निजी सार्वजनिक भागीदारी से बना है। बता दें कि आश्रम से निकलने के पहले यहां विजिटर बुक में नेतन्‍याहू ने संदेश भी लिखा। अपने संदेश में उन्‍होंने नमन करते हुए महात्‍मा गांधी को मानवता का संत बताया है। आश्रम में इजरायली दंपति ने राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी से जुड़ी तमाम वस्‍तुएं देखी यहां तक कि चरखा भी चलाया। नेतन्‍याहू दंपति ने आश्रम में पतंग उड़ाने का आनंद भी लिया। गुजरात में अहमदाबाद एयरपोर्ट से साबरमती आश्रम तक के आठ किमी लंबे रोड शो के बाद इजरायल के प्रधानमंत्री नेतन्‍याहू,पत्‍नी सारा व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ साबरमती आश्रम पहुंचे। यहां नेतन्‍याहू दंपति का स्‍वागत सूती माला पहनाकर किया गया। रोड शो के दौरान उनके स्‍वागत के लिए सड़क के दोनों ओर भारी भीड़ थी। रोड शो के दौरान भारत की सांस्‍कृतिक झलकियां दिखाने के लिए 50 मंच सजाए गए और कड़ी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के इंतजाम भी किए गए।
इसके बाद वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए वे बनासकांठा जिले के सुइगाम तालुका में मोबाइल वाटर डिसैलिनेशन (अलवणीकरण) वैन समर्पित करेंगे यह मशीन पानी के खारेपन को दूर करने में स्‍थानीय लोगों की मदद करेगी। साबरकांठा के वादराड में सब्जियों के सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में भी जाएंगे और विडियो लिंक के जरिए एक अन्य सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की शुरूआत कच्छ में की जाएगी। दोनों प्रधानमंत्री वहां किसानों से बातचीत करेंगे। इस सब के बीच वे एक स्टार्टअप प्रदर्शनी में भी जाएंगे और इनोवेटर्स से बात करेंगे। इसके बाद नेतन्याहू मुंबई के लिए रवाना हो जाएंगे।