सेहत के लिए फायदेमंद हैं पोषण से भरे मेवे


हमारी रोजमर्रा के खान-पान का महत्वपूर्ण हिस्सा मेवे ना केवल स्वाद बढ़ाने, बल्कि शरीर को सेहतमंद रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
Photo/Twitter

नई दिल्ली। हमारी रोजमर्रा के खान-पान का महत्वपूर्ण हिस्सा मेवे ना केवल स्वाद बढ़ाने, बल्कि शरीर को सेहतमंद रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यह शरीर के लिए उस पावर बैंक की तरह काम करते हैं जो हमें ऊर्जावान बनाने के साथ ही फाइबर, प्रोटीन, मिनरल्स और अतिरिक्त वसा जैसे पोषक तत्व भी देते हैं। रोज मेवों का सेवन करने से न केवल कैंसर की संभावना कम होती है, बल्कि त्वचा, बाल और नाखून आदि भी दुरुस्त रहते हैं। डाइटिशियन रूपाली बताती है कि एक स्वस्थ इंसान के लिए करीब 1 औस (28 ग्राम) मिले-जुले मेवे या कोई एक मेवा खाना पर्याप्त है। पोषण और ऊर्जा से भरपूर मेवो को किसी न किसी रूप में अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। मेवे में प्रचुर मात्रा में पाया जाने वाला प्रोटीन सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। यदि किसी को किडनी, उच्च रक्तचाप, हाई कोलेस्ट्रॉल या पाचन संबंधी कोई समस्या हो तो डॉक्टरी सलाह के अनुरूप ही इनका सेवन करना चाहिए।

कैल्शियम का अच्छा स्त्रोत माने जाने वाले बादाम में विटामिन- ए, मैग्निशियम, खनिज, फाइबर और उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन भी पाए जाते हैं। कोलेस्ट्रोल और कैंसर के खतरे को कम करने वाला बदाम दिल की बीमारियों से भी रक्षा करता है। इसके अलावा यह वजन नियंत्रित रखने में भी मददगार साबित होता है। सुबह- सुबह एक दिन में 5 से 11 भीगे बादाम खाने से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को काफी फायदा मिलता है।

काजू आयरन, मैग्नीशियम, जिंक, कॉपर, फास्फोरस आदि पोषक तत्वों का अच्छा स्त्रोत माना जाता है। काजू के सेवन से ना केवल ब्लड शुगर नियंत्रित रहता है, बल्कि ट्राइग्लिसराइड भी कम होता है। साथ ही काजू में पाए जाने वाला मैग्निशियम, रक्तचाप नियंत्रण करने में सहायक साबित होता हैं। इसके अलावा काजू में मौजूद कॉपर रक्त वाहिकाओं, हड्डियों और जोड़ों को लचीलापन प्रदान करता है। यहीं-नहीं काजू शरीर की रोग प्रतिरोधी क्षमता भी बढ़ाने में मदद करता है। हर दिन कम से कम 5 काजू खाना सेहत के लिए काफी फायदेमंद रहता है। इसके अलावा शाम के समय काजू का सेवन लाभदायक है।

मिठाइयों की शोभा बढ़ाने वाला पिस्ता ना केवल मिठाइयों की, बल्कि शरीर की शोभा भी बढ़ाता है। उच्च पोषक तत्व और प्रोटीन से भरपूर पिस्ता वजन कम करने के साथ ही कोलेस्ट्रोल और रक्तचाप का डॉक्टर भी है। पिस्ता में मौजूद विटामिन ई त्वचा को खूबसूरत बनाता है। दिन में 5 से 7 पिस्ता का सेवन सेहत के लिए अच्छा रहता है।

मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए अखरोट काफी अच्छा माना जाता है। अनेक शोधों के अनुसार नियमित रूप से अखरोट का सेवन वजन भी नियंत्रित करता है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर अखरोट दिल को सेहतमंद रखने के साथ ही कैंसर के खतरे को भी कम करता है। इसके अलावा यह अवसाद को कम करने में भी काफी उपयोगी साबित होता है।

आयरन से भरपूर किशमिश के सेवन से खून की कमी और हड्डियों की कमजोरी दूर होती है। इसमें फाइबर, विटामिन और खनिज प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। दिन में 5 से 7 किशमिश रोजाना खाना फायदेमंद होता है। साथ ही इससे पाचन में भी मदद मिलती है। आयरन, विटामिन, पोटैशियम, सोडियम आदि का अच्छा स्त्रोत माना जाने वाला अंजीर जुखाम, सिर दर्द, कमर दर्द, कब्ज और एनीमिया जैसी बीमारियों से राहत दिलाता है। कैल्शियम से भरपूर अंजीर हड्डियों के लिए काफी अच्छा होता है।

– ईएमएस