फिल्म ‘पद्मावत’ हरियाणा में भी बैन


रोहतक (ईएमएस)। हरियाणा में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत भी बैन हो गई है। राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश के बाद अब हरियाणा सरकार ने भी फिल्म को बैन कर दिया है। हरियाणा कैबिनेट की मीटिंग में मंगलवार को ये फैसला हुआ है। रणवीर, दीपिका, शाहिद कपूर स्टारर ये फिल्म राजपूत समुदाय के विरोध के बाद से विवादों में है। सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिलने के बाद यह फिल्म 25 जनवरी को देशभर में रिलीज होने वाली है। फिर भी भंसाली की फिल्म पर संकट नहीं टला है। हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने फिल्म के बैन पर कहा, कैबिनेट मीटिंग में तय हुआ कि कानून व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए इसे राज्य में बैन किया जाना चाहिए। कैबिनेट में इस फैसले पर सहमति बनी। इसी के साथ हमने हरियाणा में भंसाली की फिल्म को बैन का निर्णय लिया है। गुजरात में विजय रूपाणी सरकार ने भी फिल्म रिलीज की अनुमति नहीं दी है। राजस्थान में वसुंधरा राजे सरकार ने बैन लगा दिया है। वहीं मुंबई और गोवा में पद्मावत को बैन करने की सिफारिश की गई है। गोवा पुलिस ने टूरिस्ट सीजन का हवाला दिया है। वहीं मुंबई पुलिस ने सिक्योरिटी की बात करते हुए फिल्म को बैन करने की बात की है। फिल्म को लेकर करणी सेना का उग्र प्रदर्शन भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में मध्य प्रदेश के रतलाम जिले की एक घटना सामने आई, जिसमें फिल्म के गाने ‘घूमर’ चलाए जाने के विरोध में तोड़फोड़ की गई। रतलाम के जौरा में सेंट पॉल कॉन्वेंट स्कूल में ‘घूमर।’ गाने पर बच्चे डांस परफॉर्मेंस कर रहे थे, इसी दौरान करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने गाने का विरोध करते हुए उत्पात मचाना शुरू कर दिया। कार्यकर्ताओं ने कुर्सियां तोड़ दी और साउंड सिस्टम को तहस-नहस कर दिया। बता दें, संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत तीन भाषाओं तमिल, तेलुगु और हिंदी में रिलीज होगी।