क्रिकेट दुनिया में धौनी का दशक


नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट जगत की असाधारण शाqख्सयतों में अपना नाम शुमार कर नये मुकाम कायम करने वाले राष्ट्रीय टीम के कप्तान झारखंड के महेंद्र िंसह धौनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने १० वर्ष पूरे कर लिये। १० वर्ष पहले २३ दिसंबर २००४ को चटगांव में बंगलादेश के खिलाफ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखने वाले धौनी ने २३ वर्ष की उम्र में झारखंड से निकलकर दुनिया पर छा जाने के लिये कदम बढ़ाया और क्रिकेट की दुनिया में लोकप्रियता बटोरी। भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तान धौनी ने कपिल देव के बाद देश को उसका दूसरा आईसीसी विश्वकप दिलाकर इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज करा लिया। वह भारत के एकमात्र कप्तान भी बने जिन्होंने वनडे विश्वकप, ट्वेंटी २० विश्वकप और चैंपियंस ट्रॉफी दिलाकर आईसीसी के तीनों टूर्नामेंट का खिताब भारत की झोली में डाला।
अपनी रणनीतियों, शांत स्वभाव और बेबाक अंदाज के लिये प्रसिद्ध धौनी ने वर्ष २००७ में अपनी पदार्पण कप्तानी में दक्षिण अप्रâीका में भारत को पहली बार ट्वेंटी २० विश्व चैंपियन बनाया जबकि २०११ में अपनी कप्तानी में आईसीसी वनडे विश्वकप जिताया। इंग्लैंड में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी दिलाकर धौनी ने तीनों प्रतिाqष्ठत खिताब देश को जिताने की उपलाqब्ध भी अपने नाम की। भारतीय कप्तान ने टेस्ट और वनडे में टीम इंडिया को आईसीसी रैंिंकग में शीर्ष पर पहुंचाया। धौनी ने श्रीलंका के खिलाफ दिसंबर २००५ में टेस्ट क्रिकेट में कदम रखा और ५९ टेस्ट मैचों में भारतीय टीम का नेतृत्व भी किया। अपने करियर में ८९ टेस्ट खेल चुके धौनी ने इस प्ररूप में ४८४१ रन बनाये। इसके अलावा २५० वनडे में उन्होंने ८१९२ रन अपने नाम किये। खेल के सबसे छोटे प्ररूप ट्वेंटी २० में ५० अंतरराष्ट्रीय मैचों में उनके नाम ८४९ रन दर्ज है। धौनी के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो साफ हो जाता है कि केवल नेतृत्व क्षमता ही नहीं एक बल्लेबाज और विकेटकीपर के तौर पर भी उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन कर खुद को साबित किया है। विकेटकीपर के तौर पर उनके नाम ५०० वैâच भी दर्ज हैं। खेल की दुनिया में भारतीय कप्तान जितने सफल हैं कमाई की दुनिया में भी धौनी ने अच्छे अच्छों को पछाड़ दिया है। फोब्र्स की सूची में धौनी सर्वाधिक कमाई करने वाले दुनिया के शीर्ष एथलीटों में शामिल है और उनकी सालाना कमाई खेल और प्रायोजनों से करीब तीन करोड़ डॉलर है। वह देश के सर्वाधिक कमाई करने वाले एथलीट भी हैं।