• यह कैसा देश प्रेम?

    जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने स्थानीय आतंकियों को “माटी का सपूत” बताते हुए कहा कि उन्हें बचाने के लिए कोशिश की जानी चाहिए। महबूबा ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में गन कल्चर को खत्म करने के लिए केंद्र सरकार को स्थानीय आतंकी संगठनों से बातचीत करनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि गन कल्चर Read More ...
    View Full Post
  • मकर सक्रांति : ॐ सूर्याय नमः

    आज हम बात हमारे पर्व मकर सक्रांति की करते है। यह ऐसा पर्व है जो इस शताब्दी में 14 जनवरी को ही हमेशा आया है। लीप ईयर वाले साल में हो सकता है कि मकर संक्रमण 14 को रात्रि को भी हुआ हो परन्तु यह 14 जनवरी को ही मनाया जाता है। सूर्य जब बृहस्पति Read More ...
    View Full Post
  • अनसुलझी पहेली : कपड़ा मार्केट की चोरी

    हाल में सूरत में सर्वाधिक जिस विषय की चर्चा हो रही है वो कपड़ा बाजार की चोरी। सूरत के बड़े मार्केट राधाकृष्णा टेक्सटाइल मार्केट में सुरक्षा कर्मचारियों तथा प्रबंधन की मिलीभगत से चोरों ने बड़ा हाथ साफ किया। वैसे जिस तरह सफाई से यह वारदात हुई है उस हिसाब से इसका पता चलना नामुमकिन था। Read More ...
    View Full Post
  • वही प्रेरणा पुंज हमारे, स्वामी पूज्य विवेकानन्द

    हमारे देश में कई ऐसे महापुरूष हुए हैं, जिनके जीवन और विचार से कोई भी व्यक्ति बहुत कुछ सीख सकता है। उनके विचार ऐसे हैं कि निराश व्यक्ति भी अगर उसे पढ़े तो उसे जीवन जीने का एक नया मकसद मिल सकता है। इन्‍हीं में से एक हैं स्‍वामी विवेकानंद। उनका जन्‍म आज ही के Read More ...
    View Full Post
  • जीएसटी में भी होने लगे चुनाव लक्षी परिवर्तन

    चुनाव जैसे जैसे नजदीक आ रहे है वैसे वैसे केंद्र सरकार प्रजा को लुभाने के लिए अपने निर्णय ले रही है। इस सप्ताह सवर्ण मतदाताओं को लुभाने के लिए सवर्ण आरक्षण की घोषणा करके संसद के दोनों सदनों में उसे पास करवा लिया। इसी क्रम में व्यापारियों को खुश करने के लिए जीएसटी काउंसिल ने Read More ...
    View Full Post
  • टेक्सटाइल युवा ब्रिगेड को साधुवाद, बड़ी चोरी का पर्दाफाश

    सूरत के कपड़ा बाजार में गुनाहीत प्रवर्तिया काफी मात्रा में उच्चकों द्वारा की जाती है। आर्थिक अपराध रोकथाम के लिए काफी समय पहले ही टेक्सटाईल मार्केट में अलग से पुलिस स्टेशन की घोषणा की हुई है लेकिन स्टाफ की कमी के चलते यह अभी तक सम्भव नही हो पाया है। लेभागू चीटर व्यापारियों की समस्या Read More ...
    View Full Post
  • सवर्णों को झुनझुना!

    केबिनेट द्वारा पारित आर्थिक पिछड़े सवर्णों को 10% आरक्षण देने सम्बन्धी प्रस्ताव लोकसभा में 124वां संशोधन बिल के रूप में कल पेश किया गया। कैबिनेट ने ईसाइयों और मुस्लिमों समेत अनारक्षित श्रेणी के लोगों को नौकरियों और शिक्षा में 10% आरक्षण देने का फैसला लिया था। इसका फायदा 8 लाख रुपए सालाना आय सीमा और Read More ...
    View Full Post
  • चुनाव पर नया शगूफा: सवर्ण आरक्षण

    लोकसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार ने सवर्णों को आकर्षित करने के लिए नया दांव खेला है। केंद्रीय कैबिनेट ने आर्थिक रूप से पिछड़े स्वर्ण जाति के लोगों को 10 फीसदी आरक्षण को मंजूरी दे दी है। इस आरक्षण का फायदा ऐसे लोगों को मिलेगा जिसकी कमाई सालाना 8 लाख से कम है। सवर्ण जाति Read More ...
    View Full Post
  • रुग्ण व्यक्तियों के लिए वरदान: स्मीमेर अस्पताल

    सूरत महानगर में दो बड़े सरकारी अस्पताल कार्यरत है। नई सिविल हॉस्पिटल साउथ गुजरात का बड़ा अस्पताल है जो राज्य सरकार के अंतर्गत आता है। उसके अलावा बड़ा सरकारी अस्पताल स्मीमेर हॉस्पिटल है जो सूरत महानगरपालिका द्वारा संचालित होता है। आज हम सूरत के इस अस्पताल के बारे में ही चर्चा करेंगे। सूरत महानगरपालिका द्वारा Read More ...
    View Full Post
  • बंटने लगी चुनावी रेवड़ी

    इस साल लोकसभा चुनाव होने वाले है। इस आम चुनाव की चर्चा लगभग तीन साल पहले से ही प्रारम्भ हो गई है क्योकि सब यह देखना चाहते है कि क्या भारत का मतदाता पुनः किसी एक पार्टी को स्पष्ट बहुमत देगा? पिछले आम चुनाव में भाजपा को पूर्ण बहुमत का आंकड़ा देश के मतदाताओं ने Read More ...
    View Full Post
  • यह कैसी अभिव्यक्ति की आजादी?

    खतौली से भाजपा विधायक विक्रम सैनी ने हाल ही मे एक विवादास्पद बयान दिया कि “प्रधानमंत्री मोदी का विदेशों में डंका बज रहा है। लोग भारत माता और वंदेमातरम् का जयघोष कर रहे हैं, लेकिन कुछ देशद्रोही और गद्दारों को यहां खतरा महसूस होता है। ऐसे लोग देश छोड़ दें। देश से बाहर जाने की Read More ...
    View Full Post
  • शिक्षा ही समृद्धि की पहली सीढ़ी है!

    अफगानिस्तान के हिन्दूकुश से लेकर भारत के अरुणाचल तक और भारत के कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक जो भी जाति, धर्म, समाज और भाषा के लोग निवास करते हैं वे सभी पंचनंद और ऋषि कश्यप की संतानें हैं। हालांकि अब भारतीयों के धर्म अलग-अलग होने से उन्होंने अपनी भाषा, संस्कृति और इतिहास को भी बदल Read More ...
    View Full Post
  • क्या राममंदिर सिर्फ राजनैतिक मुद्दा ही है?

    राम मंदिर मामले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि राम मंदिर के मुद्दे पर अध्यादेश का फैसला कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही लिया जाएगा । भाजपा के २०१४ के घोषणा पत्र में राममंदिर के बारे में यह उल्लेख किया था कि ‘भाजपा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए संविधान Read More ...
    View Full Post
  • इस रात की कब सुबह होगी : बैंक फ्रॉड

    मंगलवार से नया वर्ष प्रारम्भ हो गया। वैसे वित्तीय वर्ष तो अप्रेल में प्रारम्भ होगा पर हम आज ही वित्त सम्बन्धी बात कर लेते है। क्योंकि बिना वित्त व्यवस्था के कोई भी कार्य सम्भव नहीं है। पर हम बात सरकारी नियमन और क्रियान्वयन की करेंगे कि क्या हो रहा है और कैसा होना चाहिए। बात Read More ...
    View Full Post
  • अनपढ के सर पर ताज, कैसे चलेगा राज?

    सरकारें बदलती है तो पूर्ववर्ती सरकारों की योजनाएं तथा उनके द्वारा लिए गए निर्णयों में भी बदलाव होता आया है। यद्यपि यह बदलाव प्रजालक्षी होना चाहिए लेकिन हमारे इस विविधता सम्पन्न देश मे विविध विचारधाराओं वाली राजनैतिक पार्टियों द्वारा यह बदलाव अपनी विचारधारा तथा मनोनुकूल ही किया जाता रहा है। हाल ही में राजस्थान, मध्यप्रदेश, Read More ...
    View Full Post
  • अगस्ता वेस्टलैंड : घोटाला या सिर्फ राजनैतिक पैंतरेबाजी!?

    पिछली सरकार के कार्यकाल में काफी घोटालो की चर्चा लगातार चली थी। उनमे से काफी घोटालो में केवल आरोप ही लगे जबकि धरातल पर कुछ नहीं निकला। पिछली साल इन्ही दिनों 2त्र स्पेक्ट्रम घोटाले पर निर्णय आया जिसमे आरोपी को कोर्ट ने दोषमुक्त घोषित कर दिया। इसी प्रकार एक बहुचर्चित मामला अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर खरीद Read More ...
    View Full Post
  • एकमात्र फोस्टा ही व्यापारिक हित के लिये काम कर सकती हैः गजेन्द्रसिंह राठौड़

    व्यापार की दृष्टि से भाजपा से कांग्रेस 100% बेहतर है… सूरत। कपड़ा व्यवसायी और दो वर्ष पूर्व सूरत में हुए जीएसटी आंदोलन से चर्चा में आए गजेन्द्र सिंह राठौड़ की राजनीतिक पारी की औपचारिक शुरूआत उन्हें सूरत शहर कांग्रेस समिति का मंत्री मनोनित किये जाने के साथ हुई है। यूं तो कांग्रेस द्वारा घोषित कार्यकारिणी Read More ...
    View Full Post
  • द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर

    आजकल एक फ़िल्म बड़ी चर्चा में है। वैसे हिंदुस्तान में फिल्मों और विवाद का चोली दामन का साथ है। कई फिल्मकार जानबूझकर थोड़ा विवादस्पद डाल ही देते है जिससे उनकी प्रसिद्धि हो जाये । जिन जिन फिल्मों का विरोध हुआ है उन सभी फिल्मों ने रिकॉर्ड बिजनेस भी किया है। लेकिन आजकल जिस फ़िल्म की Read More ...
    View Full Post
  • अन्नदाता सुखी भवः

    भारत मे कुछ भी कार्य चुनाव के मद्देनजर ही किया जाता है। यदि कोई सरकार चुनाव को देख कर निर्णय नही करती तो उलटफेर का शिकार भी बन जाती है। आजकल इस संदर्भ में देश के किसान सबसे अधिक पूछ परख में है। ऐसा माना जा रहा है कि तीन राज्यों की सरकार सिर्फ किसान Read More ...
    View Full Post
  • शाहबानो से अबतक : तीन तलाक

    तीन तलाक से जुड़ा नया विधेयक कल गुरुवार को करीब 5 घंटे चली चर्चा के बाद लोकसभा में पारित हो गया। अब यह विधेयक राज्यसभा में भेजा जाएगा। सरकार 8 जनवरी तक चलने वाले शीतसत्र में ही इसे पारित कराना चाहती है। कल लोकसभा में विधेयक पर वोटिंग के दौरान कांग्रेस, अन्नाद्रमुक, द्रमुक और सपा Read More ...
    View Full Post
  • पूछ रहे है भक्त हमेश, कब आएगा अध्यादेश

    कल भाजपा के महासचिव राम माधव बोले कि उम्मीद है की सुप्रीम कोर्ट राममंदिर मामले में शीघ्र निर्णय देगा ,नही तो अध्यादेश का विकल्प हमेशा खुला है । उन्होंने कहा कि अभी यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है। अदालत ने इसकी सुनवाई के लिए ४ जनवरी तय की है। हमें आशा है कि अदालत इस Read More ...
    View Full Post
  • हमारे देश की जय हो, पिता दशमेश की जय हो!

    सुप्रभात। इस दृश्यमान जगत में हर व्यक्ति, वस्तु, सजीव, निर्जीव सभी नाशवान है। जो दृश्य है वो सभी एक न एक दिन नष्ट होने वाला है। अगर कोई चीज अक्षर है तो वह अदृश्य है, उसका सम्बन्ध भले ही दृश्य जगत से है परन्तु वो स्वयं अदृश्य है तथा युगों-युगों तक वो रहती है, वो Read More ...
    View Full Post
  • ना काहू से दोस्ती ना काहू से बैर : धार्मिक आजादी

    सुप्रभात । आज पूरे विश्व में क्रिसमस की धूम है। क्रिसमस आजकल ऐसा त्यौहार है जो सिर्फ ईसाई धर्मानुयायी ही नहीं लगभग सभी मनाते हैं। युवा वर्ग का यह चहेता पर्व हो रखा है। लेकिन हमारे देश मे पिछले कुछ सालों से कुछ कट्टरपंथी कहे जाने वाले धर्मानुयायियों ने इसका प्रखर विरोध भी काफी किया Read More ...
  • मैं कहता आँखन देखी : सहिष्णुता

    सुप्रभात। आजकल सोशल मीडिय़ा में नसीरुद्दीन शाह के बारें में काफी प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रही हैं। उन्होंने जब से बयान दिया है कि वो अपने बच्चों को लेकर असुरक्षित महसूस कर रहे हैं क्योकि अगर कभी भीड़ ने उन्हें घेर लिया तो वो अपना धर्म क्या बताएंगे। हो सकता है उनके नजरिये से वो Read More ...
    View Full Post
  • भजन, किर्तन, सत्संग बिना ईश्वर प्राप्ति नहीं : श्रीहित अम्बरीषजी महाराज

    अम्बरीषवाणी सूरत। भटार रोड श्रीराम मंदिर में गोलोकवासी विनोद अग्रवाल की स्मृति में 22 से 26 दिसंबर तक हररोज सायं 3.30 से 6.30 के दौरान श्री भक्तमाल कथा आयोजित हुयी है। कथा के प्रथम दिवस श्रीहित अम्बरीषजी महाराज ने व्यासपीठ से कथा का रसपान कराते हुए कहा कि धर्म क्या है? धर्म जिसके पालन से Read More ...
    View Full Post