उबले अंडे को कच्चा बनाने में वैज्ञानिकों को मिली सफलता!


लंदन । वैज्ञानिकों ने उबले हुए अंडे को फिर से उसे उसकी पूर्व अवस्था में लाने में सफलता पाई है। यह प्रक्रिया वैंâसर के इलाज, जैव तकनीक व व्यापक पैमाने पर खाद्य उत्पादन में मददगार साबित होगी। अमेरिका तथा ऑस्ट्रेलिया सरकार द्वारा किए गए वित्तपोषित अध्ययन के मुताबिक मुर्गी के उबले अंडे को पूर्व ाqस्थति में लाने का तरीका ढूंढ निकाला है। उबले अंडे का सपेâद हिस्सा प्रोटीन होता है, जिसके बारे में अब तक यही मान्यता थी कि उसे उसकी पूर्व ाqस्थति में नहीं लाया जा सकता। अध्ययन के मुताबिक वैज्ञानिकों ने अंडे को पूर्व ाqस्थति में लाने तथा प्रोटीन को अलग-अलग करने का तरीका ढूंढ निकाला है। उबले अंडे को तोड़ने के लिए यूरिया का इस्तेमाल किया गया और उसके बाद उस पर एक उच्च क्षमता वाली मशीन ‘वोर्टेक्स फ्लूड’ उपकरण का इस्तेमाल किया गया, जिसके बाद प्रोटीन अपनी पूर्व अवस्था में आ गई। इस प्रक्रिया द्वारा प्राप्त प्रोटीन के इस्तेमाल से विभिन्न वैज्ञानिक एवं निर्माण प्रक्रिया में क्रांतिकारी परिवर्तन लाया जा सकता है। ऐसी प्रक्रिया से प्राप्त प्रोटीन से वैंâसर जैसी गंभीर बीमारी के लिए एंटीबॉडी का निर्माण किया जा सकता है, जो बेहद सस्ता होगा।