जेट की चेक इन बैगेज पालिसी में बदलाव, अब केवल एक बैग की अनुमति


नई दिल्ली (नई दिल्ली)। यदि आप जेट एयरवेज के नियमित ग्राहक हैं तो जान लीजिए कि 15 जुलाई के बाद जेट एयरवेज में केवल एक बैग के साथ ही यात्रा की जा सकेगी। विमानन कंपनी ने चेक-इन बैगेज पॉलिसी में बदलाव किया है। नए नियमों के मुताबिक, इकॉनमी क्लास पैसेंजर अधिकतम 15 किलोग्राम वजन का केवल एक बैग लेकर यात्रा कर पाएंगे, जबकि प्रीमियर क्लास पैसेंजर को मुफ्त में 2 बैग ले जाने की अनुमति होगी, और प्रत्येक का वजन 15 किलोग्राम तक हो सकता है।

जेट एयरवेज भारत में पहली विमानन कंपनी है, जिसने सामान की संख्या पर प्रतिबंध लगाया है। कंपनी के मुताबिक, जेट प्लैटिनम कार्ड धारक भी इकॉनमी क्लास में 2 बैग के साथ यात्रा कर सकेंगे। हालांकि, कंपनी ने अतिरिक्त बैग लाने वाले यात्रियों के लिए नियमों को स्पष्ट नहीं किया है। अभी तय सीमा से अधिक वजन के सामान पर यात्रियों से शुल्क लिया जाता है। सिंगल बैग कॉन्सेप्ट को जेट एयरवेज ने 15 जून से भारतीय फ्लाइट्स में लागू किया है। कंपनी ने वेबसाइट पर साफ किया है 14 जून से पहले हुई बुकिंग और 15 जुलाई से पहले की यात्रा पर नया नियम लागू नहीं होगा।

एयरलाइंस ने बताया कि इंटरनेनल फ्लाइट्स में बैगों पर प्रतिबंध एक साल से लागू है। यह भारतीय एयरलाइंस के लिए नया है, लेकिन कई इंटरनैशनल कंपनियों ने बैगों की संख्या को पहले ही सीमित कर दिया है। एयरलाइंस कंपनियों का मानना है कि बैगों की संख्या कम होने से समय की बचत होती है। साथ ही बैगों की संख्या सीमित होने से कंपनियों को अतिरिक्त सामान पर चार्ज के जरिए कमाई का अधिक मौका भी मिलता है।